Saturday, 19 May 2018

दीपक शर्मा की जीवनी Deepak sharma age weight biography in hindi urdu


Deepak sharma एक राष्ट्रवादी हिंदुस्तानी और hindu हैं। इनके लिए अपना धर्म और हिंदुस्तान देश पहले है। deepak Sharma भारत देश के दिल्ली राज्य में रहते हैं और वहीं से अपनी हिंदुओं से जुड़ी गतिविधि चलाते हैं।

Deepak sharma ने updesh rana की तरह ही हिंदू हित में अनेक कार्य किए हैं। जहां 25-26 साल की उम्र में लोग अपने career की चिंता करने लगते हैं वही दीपक शर्मा अपने कैरियर से ज्यादा हिंदू धर्म की चिंता करते हैं। ऐसा नहीं है कि दीपक शर्मा के घर में मां बहन नहीं है। दीपक शर्मा की भी कुछ बहने हैं और उनके माता पिता भी हैं लेकिन उन्होंने हिंदू धर्म के लिए अपने आप को समर्पित कर दिया गया है।

Facts about deepak Sharma in hindi//who is deepak Sharma 

Delhi में हो रहे हिंदू के खिलाफ किसी भी अत्याचार का विरोध करने के लिए Deepak sharma अपनी टीम के साथ सबसे पहले हाजिर होते हैं। कुछ दिनों पहले ही हैदराबाद के सांसद अकबरुद्दीन ओवैसी द्वारा एक जहरीला बयान दिया गया था जिसमें अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि " जब मैं हरा रंग लेकर निकलूंगा तब सब को हरा कर दूंगा। मेरे हरे रंग के आगे ना मोदी का रंग टिकपाएगा ना ही कांग्रेस का रंग टिक पाएगा " अकबरुद्दीन ओवैसी की इस बात का विरोध करने के लिए दीपक शर्मा ने उनके बयान के अगले दिन ही दिल्ली स्थित उनके आवास पर जाकर जमकर नारेबाजी की थी तथाउनके घर के बाहर भगवा झंडा गाड़ दिया था। जिसमें लिखा था" भगवा ए हिंद "।

Deepak sharma राष्ट्रीय स्वाभिमान दल से जुड़े हैं। झंडा लगाने के बाद दीपक शर्मा और उनकी टीम ने akbaruddin owaisi के घर के बाहर ही भारत माता की जय और जय श्रीराम के नारे लगाए थे। दीपक शर्मा अपने Facebook लाइव वीडियो में हिंदुओं को जागरुक करने का काम करते हैं और इस्लामिक जिहाद, गजवा-ए-हिंद और लव जिहाद का खुलकर विरोध करते हैं।

वर्तमान में Deepak sharma के एक लाख से ज्यादा फॉलोअर्स âufetसोशल मीडिया पर हैं और उतनी ही संख्या उनके समर्थकों की जमीनी स्तर पर भी होती है। दीपक शर्मा कट्टर हिंदू है औरवह हिंदुओं के हित को सर्वोपरि रखते हैं।Deepak sharma के आदर्श वीर हिंदू सम्राट महाराणा प्रताप, छत्रपति शिवाजी महाराज, सम्राट पृथ्वीराज चौहान, गुरु गोविंद सिंह, रानी पद्मावती है।

Deepak sharma bio/deepak Sharma info

दीपक शर्मा ने संजय लीला भंसाली कीविवादित फिल्म पद्मावती का भी जमकर विरोध किया था और दिल्ली में अपनी टीम के साथ पद्मावती फिल्म के पोस्टर जलाए थे।कुछ दिनों पहले शिल्पा शेट्टी और सलमान खान द्वारा वाल्मीकि समाज पर अभद्र टिप्पणी की गई थी। जिसका Deepak sharma ने राष्ट्र स्वाभिमान दल के बैनर तले जमकर विरोध किया था।कुछ वर्ष पूर्व इलाहाबाद में एक मुस्लिम वकील द्वारा इंस्पेक्टर शैलेंद्र सिंह को परेशान किया जा रहा था और एक दिन यह परेशानी हाथापाई में बदल गई। जिस पर क्रोध में आकर इंस्पेक्टर शैलेंद्र सिंह ने मुस्लिम वकील की गोलीमारकर हत्या कर दी। जिसके बादसारे वकील इंस्पेक्टर शैलेंद्र सिंह के खिलाफ एकजुट हो गए। इस घटना के बाद इंस्पेक्टर शैलेंद्र सिंह को वर्तमान सपा सरकार ने जेल में डाल दिया था। Deepak sharma ने इस बात का भी पुरजोर विरोध किया था तथा अपने Facebook लाइव वीडियो में आकर शैलेंद्र सिंह के परिवार को हर संभव मदद करने की अपील की थी।

Deepak sharma मुख्य रुप से love jihaad , gajwa-e-hind और जनसंख्या विस्फोट का मुद्दा उठाते हैं। दीपक शर्मा के जितने चाहने वाले हैं उतने ही इनकी जान की दुश्मन भी हैं। इन पर कई बार जिहादियों द्वारा हमला हो चुका है। इसमें कई बार इन्हें गंभीर चोट आई है लेकिन हिंदुत्व की राह में इन्होंने पीछे हटना स्वीकार नहीं किया और हर बार यह दुगनी गति से अपने आप को सशक्त करते हैं।

राजस्थान के राजसमन्द में shambhulal raigar द्वारा एक मुस्लिम लव जिहादी की हत्या की गई थी जिसका दीपक शर्मा ने समर्थन किया था और उन्होंने अपने Facebook लाइव वीडियो में कहा था कि ' क्या कोई अगर आपकी बहन बेटी के साथ love jihaad करें तो क्या आप उसे छोड़ देंगे'। दीपक शर्मा के आह्वान पर देश भर से जुड़े हिंदुओं ने शंभू लाल रेगर के परिवार की आर्थिक मदद की थी।

Deepak sharma खुद अपनी टीम के साथ राजस्थान के राजसमंद जिले में शंभू लाल रेगर के परिवार से मिलकर आए थे तथा उनके परिवार को हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया था।

दीपक शर्मा को आए दिन pakistan और दुबई से अनजान नंबर से कॉल करके जान से मारने की धमकी दी जाती है लेकिन वे इन सब बातों की बिल्कुल भी परवाह नहीं करते।जनसंख्या नियंत्रण कानून जल्द से जल्द बनाने के लिए दीपक शर्मा ने अपनी टीम के साथ प्रधानमंत्री narendra modi को खून से लिखा पत्र दिया था। उनकी इस मुहिम में कई लोगों ने उनका साथ दिया था।

सत्ता के लिए दलितों को याद करने वाली mayawati का भी दीपक शर्मा खुलकर विरोध करते हैं उनका कहना है कि जब islamic jihadi दलित लड़कियों का रेप करते हैं। जब आगरा में अरुण लाल माहौर नाम के दलित व्यक्ति की हत्या की गई थी। जब पश्चिम बंगाल में रोज दलितों पर इस्लामिक जिहादियों का आक्रमण होता है तब मायावती क्यों नहीं बोलती।दीपक शर्मा हिंदुओं  के ऊपर हो रहे अत्याचारों का विरोध करने के लिए जहां तक संभव होता है हर जगह जाते हैं।

इन्होंने अभी तक देश के अलग-अलग राज्यों जैसे राजस्थान गुजरात मध्यप्रदेशदिल्ली हरियाणा छत्तीसगढ़ झारखंड उत्तर प्रदेश बिहार मुंबई कर्नाटका में रैली की है।Deepak Sharma का कहना है कि जो हिंदू हित की बात करेगा वही हमारे साथ रहेगा।