Babool ke ped ki 21 din ki siddhi kaise kare|Babool ke ped ko Sidhh karne ka Tarika


  • Babool ke ped ka 21 Din Ka totka:दोस्तों ऐसा माना जाता है कि देसी बबूल के अंदर प्रेत रहता है। और यदि कोई इसको सिद्व कर लेता है तो किस्मत चमक जाती है। लेकिन यह सत्य नहीं है। यदि आप Desi Babool ko Sidhh कर लेंगे तों आपकी किस्मत चमकने की कोई गारंटी नहीं है। लेकिन हम इतना जरूर बता देते हैं कि इससे आपके जीवन के अंदर कई प्रकार ‌‌‌की समस्याएं आ सकती हैं। कई जगह पर मैंने यह पढ़ा है कि लोग desi babool ke bhoot Pret ko Siddh karne ke liye ए टोटका बिना किसी ज्ञान के करने लग जाते हैं और अंत मे उनको बहुत अधिक पछताना भी पड़ता है।

‌‌‌एक दिन एक यूजर का मेरे पास ई मेल आया कि सर मैंने बबूल के अंदर 21 दिन तक पानी डाला उसके बाद भी कूछ नहीं हुआ । इस संबंध मैं में इतना ही कहना चाहूंगा कि यह टोटका ना करें । वरना आपकी जान भी जा सकती है। ‌‌‌यदि आप तंत्र मंत्र के अंदर रूचि रखते हैं तो पहले गुरू अवश्य ही बनाएं सारे काम उसी की देखरेख के अंदर करें।
Babool ke ped ki 21 Din Ki Siddhi kaise kare|Babool  ped ko Siddh Karne Ka Tarika|Babool ke ped par jal chadhane se kya hota hai

‌‌‌आमतौर पर Babool ka ped घर से थोड़ा दूर देखना होता है। इस Sadhna के अंदर आपको बोतल लेकर शाम को 7 बजे या अंधेरा हो जाए तो उस बबूल के पास शौच के लिए जाना होता है और शौच को सच मे ही करना होता है। ‌‌‌शौच मे से कुछ पानी बचाने के बाद उसको Babool ke ped ki jado के अंदर डाल देना होता है।पानी डालने से पहले यह बोलना होता है कि हे दानव देवता मैं आपको Siddhi करना चाहता हूं आप मेरी कमजोरियों को दूर करें । ‌‌‌यह अमावस्या की रात से शूरू करना होगा ।

‌‌‌उसके बाद 10 दिन तक तो कुछ नहीं होगा लेकिन उसके बाद अनुभव होना चालू हो जाएगा । ऐसा कुछ पंड़ित बताते हैं। और जैसे ही 21 वां दिन आएगा । एक Danav आपके सामने आएगा ।उसका रूप बहुत ही भयंकर होगा और उससे आपको बिल्कुल भी डरना नहीं है। ‌‌‌यदि आप उससे डर गए तो समझो मर गए ।

उसके बाद आपको वहीं खड़ा रहना है। फिर दानव आपसे पूछेगा कि आपको क्या चाहिए । आपको कुछ मांगना नहीं है । वरन आपको बोलना होता है कि जब भी मेरे को आपकी जरूरत होगी आपको मेरी समस्या समाधान करना होगा ।

‌‌‌फिर दानव भी आपसे वचन लेगा कि आपने मुझे जो Siddh किया है उसको किसी को बताना नहीं है। यदि आपने किसी को बता दिया तो आपकी मौत निश्चित है। ‌‌‌कहा तो यहां तक जाता है कि यदि कोई उसके वचन को तोड़ देता है तो उसकी मदद से वह जितना भी पैसा कमाता है वह सारा चला जाएगा ।

‌‌‌babool ped ki Siddhi me latrin karna jaruri

Pret ki sadhna के बारे मे यह बताया गया है कि 21 दिन तक आपको पोटी आना अनिवार्य है। यदि पोटी नहीं आएगी तो समझो आपकी Sadhna पूर्ण नहीं होगी । इस वजह से sadhna करने से पहले अभियास करना जरूरी होता है।

Babool ped ki Siddhi ka Anubhav

‌‌‌एक यूजर ने लिखा की उसने Babool  ke ped ki sadhna की थी। तो उसे एक सर्प रोज दिखाई देता था। और जैसे ही वह उस पेड़ के पास जाता था तो उसके रोंगटे खड़े होने लग जाते थे । अब उसे बहुत अधिक डर लग रहा है।

‌‌‌वैसे इसके बारे मे मुझे ज्यादा जानकारी नहीं है। क्योंकि हम किसी भी प्रकार की Siddhi नहीं करते हैं। लेकिन कई यूजर यह बताते हैं कि इस प्रकार की Siddhi का वैसे तो कोई दुष्ट परिणाम नहीं होता है लेकिन अधिकतर केस के अंदर कोई ना कोई गलती हो ही जाती है। जिसकी वजह से ‌‌‌कई प्रकार की समस्या आ सकती है। जैसे डर लग सकता है और सर के अंदर दर्द हो सकता है। इसके अलावा नींद के अंदर समस्या आ सकती है।

Babool ped Siddhi ke ‌‌‌Antim din kya karna hai ?

दोस्तों अंतिम दिन प्रेत को पानी ना दें और ऐसे ही जानें लगें तो वह प्रेत प्रकट होकर आपसे पानी मांगेगा । उसके बाद आप उससे कुछ वचन ले सकते हैं। और प्रेत वचन देदे उसके बाद आप babool ke ped ke andar Pani डाल दें ।आपकों क्या वचन लेना हैं ? किस बात का ध्यान रखना है? इस ‌‌‌बारे मे अपने गुरू से बात करें ।

Tags:

Babool ke ped me Danavraj ka Vash
Babool ka ped kya hai Aur iski Siddhi kaise kare
   


0 Comments