IAS Officer कैसे बने पूरी जानकारी|How To become IAS officer In Hindi

IAS Ki Tayyari Kaise Kare: बढ़ती हुई महंगाई और प्रतिस्पर्धा को देखकर अब हर कोई सरकारी नौकरी में जाने की इच्छा रखने लगा है।अगर आप सरकारी नौकरी में जाने वाले किसी विद्यार्थी से पूछेंगे कि ऐसा कौन सा क्षेत्र है जिसमें वह लोग जाना चाहेंगे तो अधिकतर छात्र एक ही उत्तर देंगे कि वह आईएएस बनना चाहते हैं।

आईएएस पद को भारत में काफी सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है क्योंकि यह काफी उच्च पद होता है। इसके अंतर्गत काफी महत्वपूर्ण काम एक आईएएस अधिकारी को दिए जाते हैं। एक आईएएस अधिकारी कई अधिकारियों का सर्वे सर्वा होता है।

देश को चलाने के लिए हमें कई लोगों की आवश्यकता पड़ती है परंतु हम सभी लोगों को तो नहीं चुन सकते या फिर सबके लिए इलेक्शन तो नहीं कर सकते। अगर ऐसा करेंगे तो आपको हर महीने वोट डालना होगा। 

इसीलिए देश को चलाने के लिए हम सभी विधायक सांसद के साथ-साथ प्रशासनिक अधिकारी को भी चुनते हैं, जिसका काम होता है प्रशासन व्यवस्था को चलाना जो कि जिला से लेकर पूरे देश में होता है।ऐसे में एक नाम आता है आईएएस का, इसका मतलब है Indian Administrative Service।

अगर आप भी एक आईएएस अधिकारी बनकर देश और समाज की सेवा करना चाहते हैं ,साथ ही समाज में कुछ बदलाव लाना चाहते हैं, तो आज की यह पोस्ट पूरी अवश्य पढ़ें क्योंकि आज की इस पोस्ट में हम आपको आईएएस क्या है? आईएएस कैसे बने?आईएएस की तैयारी कैसे करें?इत्यादि के बारे में संपूर्ण जानकारी विस्तार से देने वाले हैं, तो चलिए शुरू करते हैं।

IAS क्या है|what is IAS In Hindi 

IAS एक सरकारी नोकरी और यह भारत के सबसे महत्वपूर्ण पदों में से एक है और IAS की शुरुआत साल 1850 में हुई थी।IAS Officer को सभी जगह काफी सन्मान दिया जाता, लेकिन IAS Officer बनना बहुत ही कठिन है,  क्योंकि IAS की परीक्षा 
यूपीएससी के द्वारा आयोजित की जाती है।यूपीएससी भारत की केंद्रीय संस्था है, जो हर साल IPS, IAS, IFS, IRS, CDS, NDA जैसे 24 से भी ज्यादा पदो के लिए परीक्षा आयोजित करती है, जिसमे यूपीएससी में IAS कि परीक्षा को किल्यर करने के बाद आपको अलग अलग जोन में भेजा जाता है, जिसमें डीएम और एसडीएम जैसे बहुत से पद होते है, जो रैंक के हिसाब से सुनिश्चित किए जाते है। 

IAS का फुल फॉर्म|fullform of IAS in Hindi 

आईएएस का फुल फॉर्म है इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस। इसे हिंदी में भारतीय प्रशासनिक सेवा कहा जाता है।

आईएएस की तैयारी कैसे करें|How to prepare for IAS in Hindi 

आईएएस की तैयारी करने के लिए और आईएएस में सफलता प्राप्त करने के लिए सबसे पहले हमे आईएएस का सिलेबस पता होना चाहिए, क्योंकि जब हमारे पास सही सिलेबस होगा तभी हम सही रणनीति बनाकर सफलता प्राप्त कर पाएंगे। UPSC द्वारा आईएएस एग्जाम को प्रत्येक वर्ष आयोजित किया है। इसके अलावा आप UPSC की वेबसाइट से भी IAS एग्जाम डेट, एप्लीकेशन फॉर्म, एडमिट कार्ड, रिजल्ट आदि के बारे में जान सकते है। आईएएस के पद तक पहुंचने के लिए बहुत ही संयम रखने की आवश्यकता होती है।इसमें यदि आपका दृढ़ निश्चय कमजोर हुआ तो आप इस मार्ग से विमुख हो जायेंगे।आईएएस अधिकारी बनने के लिए कड़ी मेहनत और ढेर सारी पढाई करनी पड़ती है।इसके बावजूद भी असंख्य छात्र आईएएस परीक्षा में फेल हो जाते हैं, क्योंकि आईएएस की परीक्षा देश की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है।इस परीक्षा में सफल होने के लिए उम्मीदवारों को इस परीक्षा की परफेक्ट तैयारी करने की आवश्यकता है।

यूपीएससी क्या है|what is UPSC in Hindi 

स्वतंत्रता से पूर्व आईएएस की परीक्षा का आयोजन इंग्लैण्ड में किया जाता था। राष्ट्रवादियों ने राजनीतिक आन्दोलन चला कर इसे भारत में स्थापित करने की मांग की थी। प्रथम लोक सेवा आयोग की स्थापना अक्टूबर 1926 को हुई थी।आजादी के बाद इसे संघ लोक सेवा आयोग का नाम दिया गया।इसकी स्थापना संविधान के अनुछेद 315 के अंतर्गत की गयी।

यूपीएससी कौन सी परीक्षा का आयोजन करवाता है|Which exam does UPSC conduct in Hindi 

वर्तमान समय में संघ लोक सेवा आयोग के द्वारा 24 सेवाओं के लिए परीक्षा का आयोजन किया जाता है, इसमें से प्रमुख इस प्रकार है।

भारतीय प्रशासनिक सेवा

भारतीय पुलिस सेवा

भारतीय राजस्व सेवा

भारतीय अभियांत्रिकी सेवा

भारतीय आर्थिक और सांख्यिकी सेवा

भूगर्भ सेवा

विशिष्ट श्रेणी रेलवे प्रशिक्षु सेवा

संयुक्त चिकित्सा सेवा

केंद्रीय पुलिस सेवा

संयुक्त रक्षा सेवा

राष्टीय रक्षा सेवा

आईएएस की तैयारी के लिए क्वालिफिकेशन|IAS preparation qualification in Hindi 

आईएएस की तैयारी करने के लिए और इस में सफल होने के लिए आवेदक का किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक (ग्रेजुएट) होना आवश्यक है।यदि आप स्नातक के अंतिम वर्ष में है या परिणाम का इंतज़ार कर रहे तब भी आप इस परीक्षा में भाग ले सकते है, किन्तु मुख्य परीक्षा में भाग लेने से पहले आपको आवेदन पत्र के साथ न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता की डिग्री देना आवश्यक होगी।

आईएएस की एज लिमिट|IAS Age Limit in Hindi 

IAS के लिए न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष है जबकि अधिकतम आयु सीमा हर वर्ग के हिसाब से अलग-अलग निर्धारित की गयी है। इसके अलावा कुछ विशेष वर्ग को इसमें छूट दी जाती है।

General Category – 32 वर्ष
OBC – 35 वर्ष (3 वर्ष की छूट)
SC/ST – 37 वर्ष (5 वर्ष की छूट)
EWS – 32 वर्ष (कोई छूट नहीं)
विकलांग – 42 वर्ष (10 वर्ष की छूट)

कितनी बार दे सकते हैं आईएएस की परीक्षा|How many times can i give IAS exam

सामान्य वर्ग के उम्मीदवार 32 वर्ष की आयु तक 6 बार परीक्षा दे सकते है।

ओबीसी वर्ग के उम्मीदवार 35 वर्ष की आयु तक 9 बार परीक्षा दे सकते है।

एससी/एसटी वर्ग के उम्मीदवार 37 वर्ष की आयु तक जितनी बार चाहें, परीक्षा दे सकते है।

सामान्य वर्ग के विकलांग उम्मीदवार 42 वर्ष की आयु तक 9 बार परीक्षा दे सकते है।

आईएएस परीक्षा की प्रक्रिया|IAS Examination Process in Hindi 

संघ लोक सेवा आयोग के द्वारा आईएएस की परीक्षा तीन चरणों में सम्पन्न की जाती है-

- प्रारंभिक परीक्षा

- मुख्य परीक्षा

- इंटरव्यू

मुख्य परीक्षा में सफल होने वाले अभ्यर्थियों की पद के अनुरूप शार्ट लिस्टिंग किया जाता है, फिर पद की संख्या के आधार पर अभ्यर्थियों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है।यह इंटरव्यू  कुल 275 अंक का होता है।

आईएएस परीक्षा की तैयारी कैसे करें

अगर आप आईएएस की परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं तो उसके लिए हमने नीचे आपको कुछ बिंदु दिए हैं, इसे अवश्य पढ़ें।

आईएएस की तैयारी करने वाले लोग आमतौर पर 23 साल से लेकर 28 साल के बीच होते हैं। इसलिए आप ग्रेजुएशन के दूसरे या अंतिम साल से आईएएस की परीक्षा की तैयारी प्रारंभ करे।

जो व्यक्ति आईएएस की परीक्षा की तैयारी करता है उसे परीक्षा से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी रखना अति आवश्यक है, जैसे कि परीक्षा की प्रक्रिया, परीक्षा का विषय, परीक्षा का सिलेबस इत्यादि, क्योंकि जब उसे इन सभी की जानकारी रहेगी तभी वह अच्छे से अपनी तैयारी कर पाएगा।

आईएएस की परीक्षा में करंट अफेयर से जुड़े बहुत से सवाल आते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि आप द हिंदू,इंडियन एक्सप्रेस जैसे अखबार अवश्य पढ़ें क्योंकि ऐसा करने से आपको करंट अफेयर और जनरल अवेयरनेस की जानकारी मिल सकेगी।

आईएएस की परीक्षा की तैयारी करने में किताबों का अहम रोल होता है।इसलिए आपको एनसीईआरटी की किताबें अवश्य पढनी चाहिए।यह किताबे आपको ऑनलाइन पीडीएफ के रूप में फ्री में मिल जाएंगी।

आईएएस की परीक्षा देने में आपके ज्ञान के साथ आपकी हैंडराइटिंग भी अच्छी होनी चाहिए क्योंकि पेपर चेक करने वाले के पास ज्यादा समय नहीं होता है, इसीलिए अगर आपकी हैंडराइटिंग अच्छी है तो चेक करने वाले को भी आपके जवाब में रुचि होगी, जिससे वह आपका जवाब अच्छे से चेक करेगा।

आप जिस भी सवाल का जो भी जवाब लिखें उसमें प्रश्न से संबंधित सभी जानकारियां अवश्य लिखें एवं कोई फालतू की बात ना लिखें और ना ही एक ही बात को बार-बार घुमा फिरा कर लिखें क्योंकि इससे पेपर चेक करने वाले पर आप की गलत छवि पड़ सकती है।आपके उत्तर मे सटिक और उचित बातें लिखी हों, भले ही आप कम लिखें पर सही लिखने की कोशिश करें एवं एक ही बात बार-बार ना लिखें।

यह बहुत ज़रूरी है कि आपके लिखने की गति तेज़ एवं आपके पास समय के उचित उपयोग का भी ज्ञान हो तभी आप इस परीक्षा को अच्छी तरह से दे सकेंगे। इसके हेतु यह भी आवश्यक है कि आप हर दिन कुछ देर लिखने की प्रैक्टिस ज़रूर करें, जिससे कि आपके लिखने की गति तेज़ हो सकेगी।

■ आईएएस में चयन का आधार|Selection basis in IAS in Hindi 

जो व्यक्ति आईएएस की परीक्षा के तीनों चरणों में सफल हो जाता है, उसे भारतीय प्रशासनिक सेवा के तहत आने वाले पदों के लिए सिलेक्ट किया जाता है और जिस अभ्यर्थी की रैंक सबसे अच्छी होती है उसे आईएएस के पद पर सिलेक्ट किया जाता है तथा जिन की रैंक कम होती है उन्हें अन्य पदों पर सरकार द्वारा नियुक्ति प्रदान की जाती है, जिन्हें कुछ वर्षों की सेवा के बाद प्रमोशन के बाद आईएएस का पद प्रदान किया जाता है। आईएएस का सिलेक्शन मेरिट,मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू के अंकों के आधार पर किया जाता है।

आईएएस की ट्रेनिंग|IAS Training in Hindi 

जो अभ्यर्थी आईएएस का इंटरव्यू पास कर लेता है उसे कुल 21 महीने की ट्रेनिंग करनी पड़ती है।इसमें 4 महीने की बेसिक ट्रेनिंग, 2 महीने की व्यवसायिक ट्रेनिंग, 12 महीने की जिला ट्रेनिंग और फिर मसूरी में तीन महीने की व्यवसायिक ट्रेनिंग शामिल है।यह ट्रेनिंग पूरी करने के बाद उन्हें पदभार दिया जाता है।

आईएएस ऑफिसर की सैलरी|salary of IAS in india

आईएएस ऑफिसर की कुल सैलरी हर महीने 56100 रुपये से शुरू होकर सर्वोच्च पद जैसे कैबिनेट सचिव के लिए 250000 रुपये तक जाती है।

Tags:

IAS officer salary 
Ias Definition in Hindi 
Ias kya hai
IAS kaise bane 
IAS ki power
Indian ias list 2020

0 Comments